फॉलो करें

हमारा ऐप डाउनलोड करें

अरविंद केजरीवाल सिर्फ एक व्यक्ति नहीं बल्कि एक विचार हैं, विचारों को कभी गिरफ्तार नहीं किया जा सकता: मुख्यमंत्री भगवंत मान

चंडीगढ़ / अखंड लोक 

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद आम आदमी पार्टी(आप) के वरिष्ठ नेता और पंजाब के सीएम भगवंत मान ने भारतीय जनता पार्टी पर तीखा हमला बोला और उनके तानाशाही रवैया की कड़ी आलोचना की। उन्होंने कहा कि दिल्ली के मौजूदा मुख्यमंत्री को ईडी,जो भाजपा की राजनीतिक टीम है, ने बिना कोई सबूत के गिरफ्तार कर लिया। यह लोकतंत्र की हत्या है।

 

अरविंद केजरीवाल के परिवार से मुलाकात के बाद दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए मान ने कहा कि देश में ये स्थिति कई सालों से चली आ रही है। सरकारी एजेंसियों को हथियार की तरह इस्तेमाल किया जा रहा है। अगर विपक्ष का कोई नेता भाजपा के अत्याचारों के खिलाफ बोलता है तो ईडी, सीबीआई और आयकर विभाग उनके घर आ जाते हैं। देश के मौजूदा हालात अघोषित आपातकाल जैसे हैं।

 

एक व्यक्ति ने दिल्ली में स्वास्थ्य क्रांति ला दी और छोटी दवाओं से लेकर बड़े परीक्षण तक सब कुछ मुफ्त कर दिया उस सत्येन्द्र जैन को उन्होंने जेल में डाल दिया। दिल्ली में स्कूल बनाने वाले, लाखों बच्चों के लिए सरकारी स्कूलों में शिक्षा के स्तर को सुधारने वाले मनीष सिसौदिया को भी जेल भेज दिया। राज्यसभा में मोदी जी के खिलाफ बोलने वाले संजय सिंह को जेल के अंदर कर दिया। अब उन्होंने अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार कर लिया। मुझे समझ नहीं आ रहा कि देश में लोकतंत्र है या नहीं!

 

उन्होंने कहा कि राज्यपाल के जरिए गैर-बीजेपी सरकारों को परेशान किया जाता है। मैं भी इसका भुक्तभोगी हूं। केरल के मुख्यमंत्री अभी जंतर-मंतर आये। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री अपने राज्यपाल से तंग आ चुके हैं। उनके राज्यपाल विधानसभा में सरकार का भाषण तक नहीं पढ़ते। हर दिन ममता दीदी को परेशान किया जा रहा है और हेमंत सोरेन को गिरफ्तार कर लिया गया। अरविंद केजरीवाल जब भी दिल्ली में कोई काम करते हैं तो एलजी उनके और उनकी सरकार के लिए रुकावटें खड़ी कर देते हैं। चुनी हुई सरकारों को हर बात पर सुप्रीम कोर्ट जाना पड़ता है। हम विधानसभा सत्र बुलाने के लिए सुप्रीम कोर्ट गए क्योंकि पंजाब के राज्यपाल हमारे बजट सत्र को आयोजित करने की अनुमति नहीं दे रहे थे। हमारे आरडीएफ का 5500 करोड़ गलत तरीके से रोका जा रहा है। कुल 8000 करोड़ रुपये से ज्यादा का बकाया है। हम कोई भीख नहीं मांग रहें। ये हमारे टैक्स का पैसा है। हमारी जनता का है।

उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट की 5-0 बेंच ने कहा कि दिल्ली की सेवाएं अरविंद केजरीवाल और सरकार के पास रहनी चाहिए। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के 5-0 के फैसले को नहीं माना और उसी दिन अध्यादेश लाकर कहा कि वे अरविंद केजरीवाल को काम नहीं करने देंगे।

 

उन्होंने कहा कि अगर कोई टीवी पत्रकार कोई रिपोर्टिंग करता है तो वे उसे पकड़कर ले जाते हैं। सबसे ज्यादा नफरत भरे भाषण बीजेपी के लोग देते हैं। हम काम की राजनीति करते हैं, ध्रुवीकरण की राजनीति नहीं। मुझे पंजाब का मुख्यमंत्री बने दो साल हो गए हैं और आज मैं 43,000 नौकरियां देकर आपके सामने बैठा हूं। दो साल में हमने 829 आम आदमी क्लीनिक बनाए। वहां सवा करोड़ से ज्यादा लोगों का इलाज हो चुका है। आम आदमी क्लीनिक को बंद करने के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन का फंड रोक दिया गया है। 26 जनवरी की परेड में पंजाब की कोई झांकी नहीं थी, जबकि हमने आजादी की लड़ाई में सर्वोच्च योगदान दिया था। हमारे बुजुर्गों और पूर्वजों ने बलिदान दिया था। हमारे बिना आप 15 अगस्त और 26 जनवरी कैसे मना सकते हैं। शहीद भगत सिंह, करतार सिंह सराभा और लाला लाजपत राय की झांकियों को अस्वीकार करने वाले वे कौन होते हैं। क्या वे भगत सिंह से भी बड़े हो गये हैं। वे हर उन लोगों के खिलाफ हैं जिन्होंने हमारे देश और हमारी आजादी के लिए लड़ाई लड़ी। मुझे लगता है कि जल्द ही वे राष्ट्रीय गीत जन गण मन से पंजाब का नाम हटा देंगे। भाजपा पंजाब से बहुत नफरत करती है लेकिन पंजाब वह राज्य है जो पूरे देश का पेट भरता है।

 

वे चाहते हैं कि कोई भी विपक्षी नेता इन चुनावों में प्रचार न कर पाए। वे तानाशाही के रास्ते पर चल रहे हैं। अरविंद केजरीवाल एक देशभक्त व्यक्ति हैं। अगर उन्हें सिर्फ पैसा कमाना होता तो बहुत कमा लेते क्योंकि वह एक आईआरएस अधिकारी थे और उनकी पत्नी भी एक आईआरएस थी। मैं अभी उनके परिवार से मिलकर वापस आ रहा हूं। उनके बच्चों की परीक्षा है लेकिन वे उन्हें किसी भी चीज के लिए बाहर नहीं जाने दे रहे हैं। वे उनके रिश्तेदारों को भी अंदर नहीं जाने दे रहे हैं। इस मामले में बच्चों का क्या दोष है?

 

मान ने कहा कि आम आदमी पार्टी अब छोटी पार्टी नहीं रही। 10 साल में यह राष्ट्रीय पार्टी बन गयी है। 10 साल में हमारी दो राज्यों में सरकार है। हमारे पास राज्यसभा के 10 सदस्य हैं। हमारा एक सदस्य लोकसभा में है। गुजरात में हमारे 5 और गोवा में 2 विधायक हैं। चंडीगढ़ के मेयर भी हमारे हैं। आप सभी जानते होंगे कि चंडीगढ़ का मेयर कैसे चुना गया था। बीजेपी एजेंट द्वारा अवैध घोषित किए गए 8 वोट सुप्रीम कोर्ट में वैध गिने गए। न्यायपालिका के इतिहास में यह पहली बार है कि किसी मेयर के नाम की घोषणा सुप्रीम कोर्ट ने की हो। मुझे इस बात की बहुत चिंता है कि जब 36 वोटों में से 8 वोट बीजेपी ने खराब कर दिए तो 4 जून को 92 करोड़ वोटों की गिनती होगी तो ये किस निचले स्तर तक पहुंचेंगे?

 

मान ने मोदी और बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि एक पत्रकार ने मुझसे पूछा कि पंजाब के किसान दिल्ली क्यों आते हैं? मैंने पूछा कि उन्हें दिल्ली आने की इजाजत क्यों नहीं है? क्या उन्हें लाहौर जाना चाहिए? उन्होंने किसानों को रोकने के लिए देश की सीमाओं से ज्यादा जवानों को तैनात कर दिया है। आप किसानों के मुद्दे क्यों नहीं सुलझाते? टीवी पर एक विज्ञापन है जिसमें कहा गया है कि पापा मोदीजी ने यूक्रेन और रूस के बीच युद्ध रोक दिया। तो फिर वह हमारे देश के भीतर के मुद्दों को सुलझाने में असमर्थ क्यों है?

 

उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी चट्टान की तरह केजरीवाल के साथ खड़ी है। आप अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार कर सकते हैं लेकिन उनके विचारों को नहीं रोक सकते। अरविंद केजरीवाल सिर्फ एक व्यक्ति नहीं बल्कि एक सोच हैं, उसे कैसे रोकेंगे? जब केजरीवाल ने मुझे यह कहते हुए आमंत्रित किया कि उन्हें अच्छी राजनीति करने के लिए अच्छे लोगों की जरूरत है, तो मैं अपना काम छोड़कर दिल्ली आ गया। मैं मशहूर कलाकार था। मुझे राजनीति में आने की क्या जरूरत थी? पार्टी के लिए कोई संकट नहीं है, पार्टी और मजबूत होकर उभरेगी। 10 साल में इस देश में करोड़ों केजरीवाल पैदा हो गए, सबको कैसे पकड़ोगे? वे (भाजपा) केवल विधायकों को खरीदने और सरकारें गिराने के बारे में सोचते हैं। वे ऐसा करते रहे हैं, वे वहां खरीदारी करते हैं जहां वे जीतते नहीं हैं या निर्वाचित नहीं होते हैं। उन्होंने शिव सेना को तोड़ दिया, शरद पवार की पार्टी को तोड़ दिया. मैंने संसद में भी कहा है कि वे हमारे देश को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं।

मान ने कहा कि हमारा कानूनी फैसला निचली अदालत में जाने का है और अब अदालत ही सब कुछ तय करेगा। दरअसल बीजेपी को डराने वाली मुख्य ताकत अरविंद केजरीवाल हैं। बीजेपी को डर है कि केजरीवाल न आएं। वो कांग्रेस से नहीं डरते। केवल एक ही पार्टी है जिससे बीजेपी डरती है और वह है आम आदमी पार्टी क्योंकि आम आदमी पार्टी बहुत तेजी से आगे बढ़ रही है। हम पंजाब में 13-0 से जीतेंगे, दिल्ली में भी चीजें अच्छी चल रही हैं। हम गुजरात, कुरूक्षेत्र भी जीतेंगे। इसलिए वे अरविंद केजरीवाल और आप से डरे हुए हैं।

 

मान ने कहा कि पहले मैं अरविंद केजरीवाल के साथ इंडिया ब्लॉक की सभी बैठकों में जाता था। चाहे वह बेंगलुरु, पटना या कहीं और हो। अब भी मैं इंडिया अलायंस की बैठकों में जाऊंगा। ये सिर्फ अरविंद केजरीवाल से जुड़ा मामला नहीं है। ये देश के लोकतंत्र को बचाने का मामला है। अरविंद केजरीवाल का परिवार मजबूत और साहसी है। यह पहली बार नहीं है जब अरविंद केजरीवाल की पत्नी को यह अनुभव हो रहा है। आंदोलन के दौरान जब वे जेल गए तब भी वह उनके साथ थीं।

 

उन्होंने कहा कि वे कह रहे हैं कि हम आम आदमी पार्टी को प्रचार नहीं करने देंगे, वे गलत हैं क्योंकि हम दोगुने जोश से प्रचार करने जायेंगे। आज हमारी बैठक होगी, आज शाम तक हम फाइनल कर लेंगे कि इंडिया अलायंस के कौन से नेता दिल्ली आ सकते हैं। हमारा गठबंधन बहुत मजबूत है। सहयोगी दलों ने भी इस गिरफ्तारी का विरोध किया है। आने वाले दिनों में हम चुनाव आयोग को भी लिखेंगे कि एक राष्ट्रीय पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक को उस समय गिरफ्तार कर लिया गया जब वह आम चुनाव के लिए प्रचार करने जा रहे थे। यह कैसा लोकतंत्र है!

 

मान ने इस बात पर जोर दिया कि पार्टी बहुत मजबूत है। इस संकट के बाद अरविंद केजरीवाल और भी बड़े नेता बनकर उभरेंगे। आज जनता को एक बार फिर भाजपा की ओछी नीतियों का पता चल गया है कि अगर हम नहीं जीते तो जो जीता है उसे दबा दो। अरविंद केजरीवाल जी मेरे बड़े भाई हैं, वह मुझ पर बहुत भरोसा करते हैं, जहां भी मौका मिलेगा, मैं जाऊंगा। आने वाले दिनों में मैं गुजरात भी जाऊंगा। कुरुक्षेत्र भी जाऊंगा। पंजाब की 117 सीटों में से हमारे पास 92 विधायक हैं और बीजेपी के पास सिर्फ 2 सीटें हैं। भाजपा दिवास्वप्न देख रही है कि वे पंजाब में भी जीत जाएगी।

 

Akhand Lok News
Author: Akhand Lok News

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल