फॉलो करें

हमारा ऐप डाउनलोड करें

विजिलेंस ने जीरकपुर नगर काउंसिल से जीएंडजी कॉमर्शियल प्रोजेक्ट की मांगी जानकारी

विजिलेंस टीम द्वारा सारी जानकारी 5 दिन के अंदर देने के दिए निर्देश

नगर काउंसिल ने बिल्डर को धारा 220 का नोटिस देकर नहीं की थी कार्रवाई

जीरकपुर/अखंड लोक (संदीप सिंह बावा)

जीरकपुर । निकाय विभाग की विजिलेंस टीम द्वारा वीरपुर नगर परिषद के ढकोली क्षेत्र में पढ़ते निर्माण अधीन कमर्शियल प्रोजेक्ट जीएंडजी का ब्योरा मंगा है। विजिलेंस टीम द्वारा यह सारी जानकारी 5 दिन के अंदर अंदर देने के निर्देश जारी किए हैं। बता दें कि ढकोली क्षेत्र स्थित जीएंडजी व्यपारीक प्रोजेक्ट के बिल्डर को नशे के उल्टा निर्माण करने का नोटिस जारी किया गया था और जारी किया नोटिस के अनुसार नशे से ज्यादा बनाई गई निर्माण को खुद तोड़ने के आदेश दिए गए थे। लेकिन बिल्डर ने निर्माण को नहीं तोड़ा जिसके बाद निकाय विभाग ने 220 का नोटिस जारी कर नगर परिषद के अधिकारियों को ज्यादा किए निर्माण को तोड़ने के आदेश दिए थे लेकिन नगर परिषद के अधिकारियों ने भी नोटिस देकर पल्ला झाड लिया था। जिसकी शिकायत सुखदेव चौधरी द्वारा विजिलेंस विभाग को दी गई थी। इसके बाद विजिलेंस विभाग ने नोटिस जारी करते हुए 5 दिन के अंदर अंदर बुरा देने का आदेश जारी किया है। बता दे कि बीते 1 महीने पहले बिल्डर द्वारा पुलिस को शिकायत दी गई थी जिसके आधार पर शिकायतकर्ता सुखदेव चौधरी के खिलाफ रिश्वत मांगने के आरोप में मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया था और उसके बाद से जीएंडजी ग्रुप के खिलाफ कोई कार्रवाई अब तक नहीं हुई थी। बता दें की निकाए विभाग के विभाग द्वारा दिसंबर महीने से नगर परिषद से इस प्रोजेक्ट की डिटेल मांगी जा रही थी लेकिन नगर परिषद द्वारा जवाब नही दिया जा रहा था। जिसे लेकर विजिलेंस विभाग ने सख्ती दिखाते हुए यह कर्रवाई की है। विजिलेंस विभाग द्वारा जारी किए गए पत्र में मांगा गया है कि बिल्डर द्वारा अपने प्रोजेक्ट के प्रोजेक्ट के नाम पर पास करवाए गए हैं या फिर अलग-अलग नाम पर करवाए गए हैं। पत्र में यह भी पूछा गया है कि यदि बिल्डर ने पास किए गए नक्शो के उलट निर्माण किया है तो तो बिल्डर के खिलाफ बनती कार्रवाई की जाए। इसके अलावा जारी किए पत्र में जिन अधिकारियों ने बिल्डर के खिलाफ कार्रवाई नहीं की है उनके नाम की लिस्ट भी मांगी गई है और यह सारी जानकारी 5 दिन के अंदर अंदर देने के निर्देश जारी किए हैं।

जीएंडजी प्रोजेक्ट के बिल्डर को धारा 220 का नोटिस देने के बाद विभाग के उच्च अधिकारियों को दे दिया गया था। जिस कारण इस प्रोजेक्ट में कर्रवाई करने में देरी हुई है। विजिलेंस विभाग द्वारा मांगी गई सारी जानकारी समय पर दे दी जाएगी।

सुखविंदर सिंह, एसडीओ नगर परिषद जीरकपुर।

Akhand Lok News
Author: Akhand Lok News

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल