फॉलो करें

हमारा ऐप डाउनलोड करें

डॉ बीआर अंबेडकर के योगदान को कभी नहीं भुलाया जा सकता: रंधावा

बलटाना में मनाया गया डॉ. अंबेडकर का 133वां जन्मदिन

जीरकपुर/अखंड लोक (संदीप सिंह बावा)

भारतीय संविधान निर्माता एवं महान समाज सुधारक, भारत रत्न डॉ. भीमराव अंबेडकर के योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता, जिसकी बदौलत हमें दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र होने का गौरव प्राप्त है। ये विचार हलका विधायक कुलजीत सिंह रंधावा ने डॉ. अंबेडकर जी के 133वें जन्मदिवस के उपलक्ष्य में बलटाना गुरु रविदास भवन में भारत रत्न डॉ. बीआर अंबेडकर सभा द्वारा आयोजित समारोह के दौरान व्यक्त किए। विधायक ने कहा कि बाबा साहेब ने जहां समाज के दबे-कुचले लोगों के जीवन स्तर को सुधारने का काम किया, वहीं संविधान का निर्माण करते हुए सभी को समान अधिकार भी दिये। उन्होंने कहा कि डाॅ. अम्बेडकर जी ने भारत के गरीब नागरिकों को वोट देने का समान अधिकार दिया और मजदूरों और किसानों को जमीन का मालिकाना हक दिलाने के लिए संघर्ष किया। उन्होंने जीवनभर मानवाधिकारों के लिए आवाज उठाई। वह एक दूरदर्शी नेता थे जो न केवल एक वर्ग बल्कि समाज के सभी वर्गों के अधिकारों का प्रतिनिधित्व करते थे। वह भारत के संविधान के निर्माता और दलितों के लिए मार्गदर्शक साबित हुए। अपनी बौद्धिक क्षमता के कारण वह भारत के पहले कानून मंत्री बने।

इस मौके पर विधायक कुलजीत सिंह रंधावा ने डॉ. बीआर अंबेडकर की तस्वीर पर फूल चढ़ाकर उन्हें नमन किया। इस मौके बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।

Akhand Lok News
Author: Akhand Lok News

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल