फॉलो करें

हमारा ऐप डाउनलोड करें

नेक्टर लाइफ साइंसेज लिमिटेड फैक्ट्री के प्रदूषण ने इलाका निवासियो का जीना किया दुश्वार

– चिमनी से निकलने वाली राख से ग्रामीण परेशान

– ग्रामीणों ने रोष व्यक्त करते फैक्ट्री के गेट पर लगाया धरना

डेराबस्सी (हरविंदर हैरी/ देव शर्मा) :

डेराबस्सी बरवाला रोड पर स्थित केमिकल फैक्ट्री नेक्टर लाइफ साइंस लिमिटेड के धुएं से निकलने वाली काली राख ने आसपास के गांवों के निवासियों का जीना दुश्वार कर दिया है। जिसके चलते काली राखी से परेशान गांव हरिपुर हिंदूओं निवासीयो ने फैक्ट्री के गेट पर धरना लगाया व रोष व्यक्त करते फैक्ट्री मैनेजमेंट व प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के खिलाफ जम कर नारे बाजी की। कुलदीप सिंह ब्लॉक समिति मेंबर ने बताया कि उनके गांव के पास स्थित केमिकल फैक्ट्री नेक के धुएं से काली राख हवा के माध्यम से उड़कर घरों के आंगनों, घरों की छतों, खड़े वाहनों पर गिर रही हैं। पैदल चलने या दो पहिया वाहन पर चलने से लोगो की आंखों में काली राख चली जाती है। जिस के उपचार के लिए उन्हें डॉक्टरों के पास जाना पड़ता है । कई लोग आंखों में काली राख गिरने से आंखों की बीमारियों से भी पीड़ित हो गए हैं। यहां तक कि घरों की छतों पर धोकर सुखाए गए कपड़े भी सूखने पर काले हो जाते हैं। मौके पर उपस्थित गांव निवासी ज्ञान चंद सरपंच, नरेश कुमार पंच, तरसेम लाल ने कहा कि प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारियों ने जनकारी दी कि उन्होंने दो बायलरो मे से एक बॉयलर को प्रमुख मुरम्मत के लिए बंद करवा दिया है जिस मे से काली राख गिर रही थी, जिन्हों के भरोसे पर धरने को वापिस लिया जा रहा है।

क्या कहते है फैक्ट्री अधिकारी
परमजीत सिंह, जी. एम पावर प्लांट ने जानकारी देते हुए बताया कि मौसम मे नमी के कारण भी राख की दिक्कत आ रही है। कभी कभी हवा का रुख बदलने के कारण भी राख गांव की तरफ चली जाती है,जिसे रोकने के लिए उन्होंने पानी के फवारे भी लगाए हुए है। उन्होंने ने दावा किया कि वह जल्द एक बायलर मरम्मत के लिए बंद करने वाले है जिस से राख गिरने की दिक्कत कम हो जाएगी।

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के एग्जीक्यूटिव इंजीनियर जी डी गर्ग ने कहा कि उन्होंने मौके का जायजा लेने के लिए एसडीओ अर्शदीप सिंह को भेजा था जिन्होंने फैक्ट्री का एक बायलर बंद करवा दिया है। उन्होंने कहा कि समय-समय पर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड एक्ट के तहत फैक्ट्रियों में जांच करते रहते है। फैक्ट्री की रिपोर्ट बना कर हेड आफिस पटियाला जमा करवा दी जाएगी व प्रदूषण अधिनियम के प्रावधानों के तहत फैक्ट्री के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी।

Akhand Lok News
Author: Akhand Lok News

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल