फॉलो करें

हमारा ऐप डाउनलोड करें

पंजाब राज्य व्यापारी आयोग के अध्यक्ष अनिल ठाकुर ने जिले के व्यापारियों और उद्योगपतियों की समस्याएं सुनीं

मोहाली – अखंड लोक
पंजाब व्यापारी आयोग के अध्यक्ष अनिल ठाकुर ने मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार के ‘आप की सरकार आप के द्वार’ अभियान के तहत साहिबजादा अजीत सिंह नगर जिले के व्यापारियों और उद्योगपतियों के साथ बैठक की और उनकी समस्याएं सुनीं। इस अवसर पर पंजाब मीडियम इंडस्ट्री बोर्ड के चेयरमैन नील गर्ग, पंजाब व्यापारी आयोग के सदस्य विनीत वर्मा और अनिल भारद्वाज भी विशेष रूप से उपस्थित थे।
इस अवसर पर व्यापारियों एवं उद्योगपतियों को संबोधित करते हुए अध्यक्ष अनिल ठाकुर ने कहा कि पंजाब सरकार द्वारा ‘वन टाइम सेटलमेंट’ योजना के तहत 01 लाख से कम का पुराना टैक्स का बकाया पूरी तरह से माफ कर दिया गया है, जबकि 01 लाख रु. से से अधिक और 01 करोड़ रु. तक की राशि के लिए विभिन्न दरों पर पर छूट दी गई है। उन्होंने कहा कि संबंधित बकायेदार इस योजना का लाभ लेने के लिए विभाग से संपर्क कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि वह हर जिले में जाकर व्यापारियों और उद्यमियों की समस्याएं सुन रहे हैं ताकि उनका सरकारी स्तर पर समाधान कराया जा सके।
इस मौके पर जिला योजना कमेटी की चेयरपर्सन प्रभजोत कौर, सहायक कमिश्नर स्टेट टैक्स मुनीष नायर, रमनदीप कौर ईटीओ, नीतू बावा ईटीओ, दीपिंदर कौर ईटीओ मौजूद थे। इस मौके पर मोहाली इंडस्ट्री एसोसिएशन, इंडस्ट्री एसोसिएशन-82, ज्वैलर्स एसोसिएशन, मोहाली ट्रेडर्स एसोसिएशन, चनालो इंडस्ट्री एसोसिएशन और मोहाली करियाना एसोसिएशन सहित विभिन्न व्यापार मंडलों और औद्योगिक एसोसिएशनों के पदाधिकारी मौजूद थे, जिन्होंने विभिन्न सुझाव और समस्याएं रखीं।

मेरा बिल एप पर लकी ड्रा –

उन्होंने कहा कि यदि किसी व्यापारी को राज्य जीएसटी विभाग से नोटिस मिलता है, तो इसका मतलब यह नहीं है कि व्यापारी या दुकानदार दोषी है, बल्कि उसे अपना पक्ष रखने का पूरा मौका दिया जाता है और यदि व्यापारी का पक्ष सही है, तो ऐसा नोटिस वापिस ले लिया जाएगा।उन्होंने कहा कि विभाग को निर्देश दिए गए हैं कि व्यापारियों और उद्योगों को बिना वजह परेशान न किया जाए। उन्होंने यह भी अपील की कि सामान बेचते समय पक्का बिल जरूर दिया जाए। उन्होंने कहा कि मेरा बिल एप पर बिल लोड करने वाले व्यक्ति को लकी ड्रा में शामिल करने से प्रदेश में बिक्री की गई वस्तु का बिल देने का चलन बढ़ा है।

किसान अन्नदाता है तो व्यापारी करदाता –

पंजाब मीडियम इंडस्ट्री बोर्ड के चेयरमैन नील गर्ग ने कहा कि सरकार की नियत और नीति साफ और स्पष्ट है। पंजाब में उद्योग और व्यापार को बढ़ावा देने के लिए पहली बार व्हाट्सएप हेल्पलाइन पर उनकी समस्याएं प्राप्त कर उनके लिए नीतियां बनाई गई हैं। उन्होंने कहा कि किसान अन्नदाता है तो व्यापारी करदाता है, इसलिए सरकार दोनों वर्गों को हर सुविधा देने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि सरकार और उसके सभी अंग व्यापारियों की सभी समस्याओं का समाधान करने का प्रयास कर रहे हैं और यदि किसी व्यापारी को कोई समस्या आती है तो वह उनसे संपर्क कर सकता है।

Akhand Lok News
Author: Akhand Lok News

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल